कुंआ गोल ही क्यों होता है ?

kuaa gol kyu hota hai | कुआँ गोल क्यों होता है?

kuaa gol kyu hota hai : लगभग आप सभी ने कुंए को तो देखा ही होगा, वही कुंआ जिसमे गॉव के लोग पानी भरते थे। यह एक पुराना चलन था, जिसमे गॉव की महिलाये एक साथ हो कर कुओ में पानी भरने जाया करती थी। खैर ये सब पुरानी बाते है, लेकिन फैक्ट वाली बात ये है की, कुआँ गोल क्यों होता है? चौकोर क्यों नहीं होता ? तो आज हम आप बतायेगे की कुआँ गोल क्यों होता है?(kuaa gol kyu hota hai)

कुंआ गोल ही क्यों होता है ? चौकोर क्यों नहीं होता ?

कुंआ गोल ही क्यों होता है ?
कुंआ गोल ही क्यों होता है ?

पुराने जमाने से ले कर आज भी अगर कही कुंआ बनता है तो वह गोल ही होता है। कुंआ गोल बनाने की दो मान्यताये है।

धार्मिक मान्यता

पहली मान्यता की बात करे तो, कुंआ गोल बनाने से कुंआ में देवताओ का वाश होता है। पुराने ज़माने में लोग कुंआ की पूजा करते थे। पुराने जमाने में लोगो का मानना था की कुंआ में देवताओ का वाश होता है जिससे वो लोग कुंआ को गोल बनाते थे और कुंआ की पूजा करते थे

विज्ञान के अनुसार

विज्ञान के अनुसार बात करे तो, कुंआ गोल बनाने के कई कारण होते है –

पहला कारण है- की जब कुआ गोल खोदे जाते थे तो कुंआ गोल खोदने से मिटटी, चौकोर कुंए की अपेछा कम मिटटी निकलती थी। जिससे मजदूरों को कुंआ खोदने में बहुत साहूलियत होती थी।
दूसरा कारण है- कुंआ गोल बनाने से ,कुंआ की दीवारों पर एक समान दबाव पड़ता है जिससे कुंआ धसता नहीं है। लेकिन कुंआ चौकोर बनाया जाता तो चौकोर कुंआ की दीवारों में एक समान दबाव नहीं पड़ता और कुंआ धसने की संभावना ज्यादा होती , इस लिए कुंआ हमेसा गोल बनाया जाता था तो यही कारण है की कुंआ को गोल बनाया जाता था। तो आप को हमारा ब्लॉग आप को कैसा लगा कमेंट कर के जरूर बताये।

अब आप हमे ब्लॉग लिख कर भी भेज सकते है। भेजने के लिए click hear

आप हमारा यूट्यूब चैनल भी सब्सक्राइब कर सकते है।

क्या सेब के बीज में जहर होता है ? | Are apple seeds poisonous | 10 Interesting Facts | Episode #10
close button